दिल्ली में पकड़े गए आतंकी का कानपुर कनेक्शन शहर के कई लोगों के संपर्क में थे जैश आतंकी

कानपुर। दिल्ली में पकड़े गए जैश के आतंकियों का कानपुर कनेक्शन सामने आया है। ये आतंकी सोशल मीडिया के जरिए कानपुर के चार.पांच लोगों के संपर्क में थे। यह खुलासा उनके पास से बरामद लैपटॉप और मोबाइल से हुआ है। लखनऊ के बारे में भी अहम जानकारी मिली हैं। इसके बाद कानपुर में भी खुफिया विभाग को अलर्ट कर दिया गया है। बता दें कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जम्मू.कश्मीर के रहने वाले जैश के आतंकी अब्दुल लतीफ और अशरफ खटाना को गिरफ्तार किया था।
खुफिया टीमों ने जब उनसे पूछताछ की और उनके पास से बरामद लैपटॉप व मोबाइल खंगाले तो कुछ अहम जानकारियां हाथ लगीं। फेसबुक और इंस्टाग्राम के जरिए ये आतंकी कानपुर के कई लोगों के संपर्क में थे। सूत्रों के मुताबिकए इन सभी ने अपनी आईडी श्फेंक्य नाम से बना रखी थी। आतंकियों की उन लोगों से बातचीत भी मिली है। सुरक्षा एजेंसियां अपने स्तर पर खंगाल रही हैं। खुफिया विभाग अलर्ट हो गया हैए निगरानी जारी है। एजेंसियों ने यूपी पुलिस से इस संबंध में भी जानकारी साझा की है।
खुरासान मॉड्यूल के संपर्क में थे आतंकी
तीन साल पहले कानपुर में आईएसआईएस के खुरासान मॉड्यूल का खुलासा हुआ था। इसमें मुख्य सरगना गौस मोहम्मद खान समेत एक दर्जन आतंकी गिरफ्तार हुए थे। लखनऊ में आतंकी सैफुल्लाह मार गिराया गया था। सूत्रों के मुताबिकए अब्दुल लतीफ उस वक्त गौस मोहम्मद के संपर्क में था। उसी के जरिए गौस व अन्य आतंकी कानपुर से काश्मीर जाने वाले थे। सुरक्षा एजेंसियां इन सभी तथ्यों की जानकारी खंगाल रही हैं।
धार्मिक स्थलए होटलों पर नजर
दो साल पहले इंडियन मुजाहिद्दीन का आतंकी कमरुज्जमा पकड़ा गया था। तब उसके निशाने पर गणेश मंदिर समेत अन्य धरोहर थीं। अब आतंकियों का कानपुर कनेक्शन सामने आने के बाद शहर में भी हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। खासकर होटलए मॉलए धार्मिक स्थलए प्रमुख बाजारों की निगरानी की जा रही है। इसके अलावा कई सरकारी बड़े विभाग के दफ्तरों पर भी खुफिया की नजर है। मिलिट्री इंटेलीजेंस भी सक्रिय हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *