फतेहवीर की मौत पर फूटा NRI का गुस्सा

बटाला|सुनाम के गांव भगवानपुरा में 6 जून को बोरवैल में गिरे 2 साल के मासूम को 6 दिन बाद भी सकुशल बाहर निकालने में नाकाम प्रशासन तथा सरकार पर देशवासियों के साथ-साथ विदेशों में रहते भारतीयों का गुस्सा फूट पड़ा है। एक एन.आर.आई. द्वारा वीडियो शेयर करके भारतीय नेताओं की जमकर क्लास लगाई है। उसने कहा कि अगर भारत के पास भी ऐसी मशीनें होती तो फतेहवीर को बचाया जा सकता था। सरकार 300 करोड़ की मूर्ति तो बना सकते हैं,पर लोगों की सुरक्षा के लिए इनके पास ऐसी मशीनें नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि फतेहवीर को न बचा सकना पंजाब के लिए बहुत ही शर्मनाक बात है।
उल्लेखनीय है कि संगरूर के भगवानपुरा गांव में गुरुवार की शाम डेढ़ सौ फीट गहरे बोरवैल में गिरा 2 वर्षीय फतेहवीर सिंह आखिर 109 घंटे बाद जिंदगी की जंग हार गया था। मंगलवार तड़के 5 बजे बोरवैल से उसे निकाला गया। इससे पूर्व बोरवैल के समानांतर खड्डा बनाकर और फिर दोनों के बीच सुरंग बनाकर बच्चे को बचाने का प्रयास करीब 5 दिनों तक जारी रहा जिसमें नैशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स, स्थानीय पुलिस प्रशासन व सेना की भी मदद ली गई। हालांकि इस दौरान बच्चे तक खाने-पीने की सामग्री (बिस्कुट, जूस आदि) नहीं पहुंचाई जा सकी, क्योंकि गिरने के साथ फतेहवीर का चेहरा एक बोरी से ढक गया था। बच्चे को ऑक्सीजन पहुंचाई जा रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *