बीच बाजार अमृतधारी महिला को बरहमी से पीटा, मारी लाठियां|

गुरदासपुर|अमृतधारी महिला की बाजार हरचोवाल में सरेआम मारपीट के अतिरिक्त केशों, धार्मिक चिन्हों की बेअदबी करने, गुंडागर्दी का नंगा नाच करने का मामला सामने आया है। सरकारी अस्पताल में उपचाराधीन बीबी मनजीत कौर पत्नी सतनाम सिंह निवासी हरचोवाल नेबताया कि गत सायं मेरा लड़का तजिन्द्र सिंह किसी कार्य से हरचोवाल चौक में गया था। हरचोवाल के पैट्रोल पम्प पर शरणजीत सिंह उर्फ तारा पुत्र बलविन्द्र सिंह के साथ बहस हो गई। उस समय सोनू पुत्र स्व. बलविन्द्र सिंह निवासी हरचोवाल ने झगड़ा करना शुरू कर दिया जिससे मेरे लड़के के साथ मारपीट करके केशों की बेअदबी की गई, जबकि समीप खड़े लोगों ने झगड़ा छुड़वा दिया। मेरे लड़के ने मुझे घर आकर सारी जानकारी दी तो मैंने कहा कि हमें तुरंत पुलिस को रिपोर्ट करनी चाहिए। मैं और मेरे लड़के ने पुलिस चौकी हरचोवाल में लिखित शिकायत आरोपियों के विरुद्ध दी। पुलिस ने इन आरोपियों को पुलिस चौकी में बैठा लिया। रात्रि में जमानत पर आकर ये लोग चालाकी से झूठी एम.एल.आर. कटवा कर अस्पताल में दाखिल हो गए।
जब हम पुलिस चौकी से अपने मोटरसाइकिल पर घर वापस आ रहे थे तो सरकारी अस्पताल के सामने आगे कार में सवार होकर आ रहे अजीत सिंह जीतू पुत्र जोगिन्द्र सिंह निवासी हरचोवाल ने हमारे मोटरसाइकिल को कार की साइड मारने का प्रयास किया और कार से उतर कर लाठियों से हमला कर दिया। मुझे केशों से पकड़ कर बुरी तरह मारपीट शुरू कर दी। मेरे कपड़े फाड़ दिए और मेरे केशों के अतिरिक्त धार्मिक चिन्ह की बेअदबी की गई। पीड़ित महिला ने कहा कि यदि प्रशासन ने इन आरोपियों के विरुद्ध कार्रवाई न की तो 26 मई को क्षेत्र निवासियों, धार्मिक संगठनों, सत्कार कमेटी, सिख स्टूडैंट्स फैडरेशन, राजनीतिक पार्टियों के सहयोग से कस्बा हरचोवाल के चौक में धरना लगाकर चक्का जाम किया जाएगा जिसकी जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन की होगी।
इस सम्बन्धी जब पुलिस चौकी इंचार्ज बलविन्द्र बाजवा से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि हम केस की जांच कर रहे हैं जो भी आरोपी होगा उसके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। एस.एम.ओ. ने कहा कि यदि मेरे अस्पताल में गैर कानूनी रूप से एम.एल.आर. काटी होने की जानकारी मिली तो डाक्टर के विरुद्ध सिविल सर्जन को लिखा जाएगा। दूसरी पार्टी की आज सुबह सरकारी अस्पताल में एम.एल.आर. काटी गई है क्योंकि रात्रि में डा.आज्ञापाल की ड्यूटी थी, म.एस.आर. सुबह डा. हरप्रीत की ड्यूटी में काटी गई है। इस सम्बन्धी पीड़ित महिला मनजीत कौर ने आरोप लगाया कि जब आरोपी पुलिस की हिरासत में थे तो कैसे अगले दिन एम.एल.आर. कट गई। लिखित में जानकारी एस.एम.ओ. डा.चेतना को दी गई जिन्होंने जांच हेतु लिख दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *