बुआ और बबुआ का गठबंधन हुआ खत्म…?

चुनाव खत्म होते ही बुआ बबुआ के रिश्तों में दरार ख़बर आने लगी है। इस बीच ख़बर आ रही है कि अखिलेश और मायावती का गठबंधन खत्म होने की कगार पर है। दिल्ली में सोमवार को हुई बसपा प्रमुख मायावती की बैठक में उ.प्र. में बसपा के हार के कारणों पर चर्चा हुई है। सूत्रों के अनुसार बैठक में मायावती ने कहा कि इस गठबंधन से यूपी में कोई फायदा नहीं हुआ और यादवों का वोट बसपा को नहीं मिला है।

सूत्रों के अनुसार मायावती के तेवर के बाद यह संकेत मिलने लगे हैं कि जल्दी ही राज्य में एसपी और बीएसपी गठबंधन टूट जाएगा। समीक्षा बैठक में मायावाती गठबंधन से बिल्कुल नाखुश दिखीं। मायावती के उपचुनाव लड़ने के ऐलान को उनके नजरिए में बड़े बदलाव के तौर पर देखा जा रहा है। बता दें कि बीएसपी आम तौर पर उपचुनाव नहीं लड़ा करती थी।

मायावती ने बैठक के दौरान कहा कि शिवपाल यादव ने यादवों का वोट काटा है। बता दें कि लोकसभा चुनाव से पहले बड़ी तैयारी के बाद एसपी, बीएसपी और आरएलडी के बीच गठबंधन हुआ था। तीनों दलों ने यूपी में 50 से ज्यादा सीटें जीतने का दावा किया था। लेकिन लोकसभा चुनावों के परिणाम उम्मीदों के उलट रहा और बीएसपी केवल 10 सीटों पर ही जीत सकी जबकि एसपी को केवल 5 सीटें मिलीं।

मायावती बैठक में कहा कि उन्हें जाटों के वोट भी नहीं मिले। सूत्रों के अनुसार मायावती ने इसके साथ ही यूपी में कुछ दिनों में होने वाले 11 विधानसभा उपचुनावों में अकेले लड़ने की भी घोषणा कर दी है।

भाजपा के नेतृत्व में एनडीए गठबंधन ने 64 सीटों पर जीत दर्ज की थी। बता दें कि लोकसभा चुनाव में बीएसपी 38, एसपी 37 और आरएलडी 3 सीटों पर मिलकर चुनाव लड़ी थी। गठबंधन ने अमेठी और रायबरेली की सीटें कांग्रेस के लिए छोड़ दी थी। जिसमें से कांग्रेस को सिर्फ एक सीट मिली थी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *