ब्याज माफिया से प्रताड़ित होकर पति-पत्नी व दो जवान बेटों ने की सामूहिक आत्महत्या

ब्याज माफिया से प्रताड़ित होकर पति-पत्नी व दो जवान बेटों ने की सामूहिक आत्महत्या

जयपुर । जिले में कानोता थाना क्षेत्र के जामडोली के एक घर में परिवार ने सामूहिक आत्महत्या कर ली। आर्थिक तंगी के कारण पति पत्नी और उनके दो जवान बेटों ने फांसी लगाकर जान दे दी। सूचना मिलने के बाद पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे एडिशनल एसपी मनोज चौधरी ने एफएसएल टीम को बुलाया गया। पुलिस ने मौके पर कोई सुसाइड नोट मिला है या नहीं के बारे में कोई जानकारी नहीं दी।

एडिशनल एसपी मनोज चौधरी ने बताया कि जामडोली के राधिका विहार में भरत सोनी उनकी पत्नी ममता सोनी अपने दो बेटों 23 वर्षीय अजीत सोनी और 20 वर्षीय यशवंत सोनी के साथ रहते थे। शनिवार सुबह जब परिवार के लोग घर के बाहर दिखाई नहीं दिए तो आसपास रहने वाले परिजनों को अंदेशा हुआ। परिजनों ने घर का दरवाजा अंदर से बंद होने पर खिड़की से अंदर देखा तो परिवार फंदे पर लटका हुआ था। जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। 

मौके पर पहुंची पुलिस को भरत सोनी और दोनों बेटे एक हॉल में फंदे पर लटके मिले। दोनों बेटों के पैर बंधे मिले। जबकि पत्नी ममता सोनी दूसरे कमरे में फंदे से लटकी मिली। जिसकी आंख पर पट्टी बंधी थी।

मनोज चौधरी ने बताया कि परिवार ज्वेलरी का काम करता था। यशवंत सोनी की जयपुर और अलवर में ज्वैलरी की दुकान है। उन्होंने किसी से ब्याज पर पैसे ले रखे थे। जिसके कारण ब्याज माफिया इन को प्रताड़ित कर रहा था। आसपास के लोगों ने बताया कि कल रात को कुछ लोग इनके घर पर आए थे। जिनसे लेनदेन को लेकर कुछ कहासुनी हुई थी। जिसके चलते परिवार ने परेशान होकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *