भविष्य में मध्य रेलवे की लोकल ट्रेन में होगी ट्रेन-18 की तरह सारी मशीनें

मुंबई|भारतीय रेलवे द्वारा ट्रेन-18 यानी वंदे भारत एक्सप्रेस की तकनीक जैसा ही ईएमयू रेक तैयार कर लिया गया है। भविष्य में मध्य रेलवे पर दौड़ने वाली इस लोकल ट्रेन में भी ट्रेन-18 की तरह सारी मशीनें ट्रेन के नीचे होंगी, इससे यात्री वहन क्षमता में वृद्धि होगी। इन मशीनों को पानी से बचाने का प्रबंध भी किया गया है, तो बारिश में भी बिना अड़चन दौड़ेगी नई लोकल। आरडीएसओ द्वारा इस प्रोटोटाइप का निरीक्षण किया जा चुका है। जल्दी कल्याण-कर्जत-कसारा सेक्शन में इसके ट्रायल होंगे।
सूत्रों के अनुसार नई लोकल ट्रेन का प्रोटोटाइप यानी ट्रायल वाला रेक मुंबई पहुंच चुका है। इस ट्रेन में मौजूदा रेक की बजाय अलग व्यवस्था है, इसलिए ट्रायल करने पड़ेंगे। इसे सर्विस में शामिल करने के लिए कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी से सर्टिफिकेट लेना होगा। हाल ही में पश्चिम रेलवे को मिली दूसरी एसी लोकल भी इसी तकनीक पर आधारित है।
मौजूदा रेक में हर तीन यूनिट के बाद एक मोटर कोच होता है। इससे यात्री वहन क्षमता घट जाती है लेकिन नए प्रोटोटाइप में यह मशीनरी ट्रेन के नीचे फिट की गई है। सूत्रों के अनुसार मौजूदा लोकल की तुलना में नई लोकल में 700-900 अधिक यात्री समाहित हो सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *