यूपी: तेज बारिश और ओलावृष्टि ने बढ़ाई गलन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ सहित पूरे प्रदेश में शुक्रवार सुबह से बादल छाये हुए थे। कई जिलों में तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश हो रही थी। लेकिन लखनऊ में सुबह करीब 11.15 बजे काले बादलों की चादर की वजह से अँधेरा छाया हुआ और अचानक गरज चमक के साथ मूसलाधार बारिश होने लगी।

बारिश के दौरान कई क्षेत्रों में ओलावृष्टि भी हुई। ओले गिरने के बाद हवा चलने के कारण ठिठुरन बढ़ी है। बादलों की वजह से एक बार फिर लोगों को ठंड का एहसास हो रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक, यूपी के कई हिस्सों में अगले एक या दो दिन हल्की बारिश के आसार हैं। जिस कारण तापमान में गिरावट भी आ सकती है।

आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि पहाड़ों से आने वाली सर्द हवाओं के बीच हल्की बारिश से ठिठुरन बढ़ सकती हैं। इससे दिन और रात के तापमान में 2 से 3 डिग्री सेल्सियस की कमी आ सकती है। इसके अलावा हल्की धुंध भी पड़ने के आसार हैं।

राजधानी लखनऊ सहित औरैया, मेरठ, बांदा, उरई, कानपुर देहात, फर्रुखाबाद, कन्नौज, उरई, उन्नाव सहित कई जिलों में बारिश के चलते मार्गों पर वाहनों के पहिए थम गए। साथ ही कई जिलों में ओलावृष्टि के कारण किसानों की फसलों को नुकसान हुआ है।

प्रदेश के अन्य जिलों में भी घना कोहरा छाया रहा। मौसम का असर रेल की चाल पर पड़ा है। दिल्ली की ओर से आने वाली कई ट्रेन चारबाग स्टेशन पर लेट पहुंची। कश्मीर में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ का असर पूरे उत्तर प्रदेश और मध्यप्रदेश पर हो गया है।

इस सीजन में स्ट्रांग सिस्टम से कश्मीर घाटी में जमकर बर्फबारी हो रही है। वहीं, मैदानी क्षेत्रों में कहीं घना कोहरा छाने के साथ बारिश हो रही है। मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार ऊपरी सतह (जमीन से 15 किमी ऊपर) में तेज हवा चला रही है।

इससे उत्तर भारत में कम दबाव का क्षेत्र बन गया है। यूपी में आधी रात के बाद पश्चिमी विक्षोभ ने अपना असर दिखाया और मौसम बदल गया। हालांकि न्यूनतम तापमान में तो खास गिरावट दर्ज नहीं गई। पांच से सात किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चलने लगीं। तड़के होते होते घना कोहरा छा गया। एयरपोर्ट पर सुबह के समय धुंध दिखाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *