राफेल सौदे की जानकारी लीक होने के मामले में रक्षा मंत्रालय आंतरिक जांच करा रहा है: RTI

नई दिल्ली : राफेल लड़ाकू विमान के सौदे की गुप्त जानकारी लीक होने के मामले में रक्षा मंत्रालय आंतरिक जांच करा रहा है। यह जानकारी रक्षा मंत्रालय ने एक आरटीआई के तहत मांगी गई जानकारी के जवाब में दी।

आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने रक्षा मंत्रालय से राफेल विमान सौदे की ‘चोरी’ हुई फाइलों और इस बारे में की गई कार्रवाई की जानकारी मांगी थी। गलगली ने यह भी पूछा था कि क्या प्रधानमंत्री कार्यालय और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण इस चोरी से वाकिफ थे और यदि थे, तो क्या पुलिस में शिकायत की गई थी।
इस आरटीआई का जवाब रक्षा मंत्रालय के उप सचिव (एयर एक्विजिशन) एवं सीपीआईओ एयर एक्विजिशन (कैपिटल) विंग सुशील कुमार की तरफ से दिया गया। 7 मई को दिए गए जवाब में कहा गया है कि मंत्रालय ने इस बारे में आंतरिक जांच के आदेश दिए हैं। मंत्रालय ने इन गोपनीय दस्तावेजों के लीक होकर पब्लिक डोमेन में पहुंचने और सुरक्षा निर्देशों के उल्लंघन की आंतरिक जांच के आदेश दिए हैं।
मार्च में अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने सुप्रीम कोर्ट के सामने पेश ये कागजात चोरी किए जाने का दावा किया था। वेणुगोपाल ने यह दावा राफेल विमान खरीद में गड़बड़ी के मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर पुनर्विचार के लिए दाखिल याचिका में इन दस्तावेजों की फोटोकॉपी को शामिल करने पर किया था और शीर्ष अदालत से इस पर विचार नहीं करने की मांग की थी। सुप्रीम कोर्ट ने यह मांग ठुकरा दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *