लखनऊ में फुटपाथ पर रंगों की दुकान लगाने वाले लोगों पर चढ़ा ट्रक, दो की मौत

लखनऊ । नो इन्ट्री लगने से पहले शहर से बाहर निकलने की होड़ मे एक ट्रक चालक इतना हड़बड़ा गया कि उसने चाौक की बांध वाली गली के पास सड़क के किनारे रंग और पिचकारी की अस्थाई दुकान लगाने वाले दो लोगो को उस समय रौंद डाला जब वो सड़क के किनारे लगी दुकान के तख्त पर सो रहे थे।

दो लोगो को रौंदने के बाद चालक ने भागने का प्रयास किया लेकिन लोगो ने दौड़ा कर पकड़ा और पुलिस के हवाले कर दिया। ये दर्दनाक हादसा उस जगह पर हुआ जहंा से सीएमएल पुलिस चैकी और चाौक पुलिस चाौकी महज दो सौ मीटर की दूरी पर है। हादसे के बाद पहुॅची पुलिस ने शवो को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार चैक थाना क्षेत्र के बांध वाली वाली गली के पास सड़क के किनारे हनुमान गढ़ी शास्त्री नगर आयोध्या के रहने वाले 24 वर्षीय महादेव कौशल और बसन्त कुज कालोनी दुबाग्गा ठाकुरगंज के रहने वाले 34 वर्षीय राजन उर्फ दिलिप कुमार अस्थाई रूप से रंग और पिचकारी की दुकान लगाए हुए थे।

महादेव कौशल और राजन उर्फ दिलीप कुमार अपनी रंग की दुकान मे पड़े तख्त पर सो रहे थे सुबह करीब पौने 6 बजे एक तेज रफ्तार दस टायरा ट्रक के चालक ने तख्त पर सो रहे राजन और महादेव को रौदं डाला। भारी भरकम ट्रक के नीचे दब को दोनो दुकानदारो की मौके पर ही मौत हो गए। बताया जा रहा है कि हादसा सृबह करीब पौने 6 बजे हुआ जबकि 6 बजे से शहर मे भारी वाहनो के लिए नो इन्ट्री का नियम लागू हो जाता है।

इस लिए ट्रक का का चालक नो इन्ट्री के समय से पहले ही अपने ट्रक को शहर की सीमा से दूर ले जाने के लिए तेज गति से ट्रक चला रहा था। हादसे के बाद ट्रक छोड़ कर भाग रहे चालक को लोगो ने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। हादसे मे मारे गए महादेव की की 6 माह पहले ही जगदीशपुर मे सामूहिक विवाह समारोह मे दिल्ली की रहने वाली नेहा के साथ शादी हुई थी महादेव आयोध्या मे बिसात खाने का काम करता था ।

और मेलो मे भी दुकान लगाता था 15 दिन पहले ही महादेव और राजन कुम्भ मेले से लौटे थे दोनो ने कुम्भ के मेले मे अपनी बिसात खाने की दुकान लगाई थी। हादसे मे मारे गए राजन उर्फ दिलीप कुमार की पत्नी गीता देवी से ढाई साल पहले अलगाव हो गया था राजन के तीन बच्चे अर्पित कनक और अर्पिता है एक बेटी अर्पिता राजन की पत्नी अपने साथ ले गई थी दो बच्चे राजन के साथ ही रहते है।

राजन जिस मकान मे रहता है वो मकान उसे उसकी बहन रजनी ने दिलवाया था। इन्स्पेक्टर चैक प्रमोद कुमार मिश्रा ने बताया कि ट्रक के चालक फिरोजबाद निवासी तेज सिंह को गिरफ्तार कर लिया है उन्होने बताया कि ट्रक चालक नशे मे नही था नो इन्ट्री का समय शुरू होने से पहले वो अपने ट्रक को शहर से बाहर ले जाना चाहता था जल्दबाजी के चक्कर मे ही चालक ने ट्रक से अपना नियन्त्रण खोया और ये दर्दनाक हादसा हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *