लवली आटो गोलीकांडः युवती ने अस्पताल में तोड़ा दम, हत्यारे ने पहले ही कर लिया था Suicide

जालंधर|नकोदर चौक स्थित लवली आटो में प्रेमी की गोली का शिकार हुई युवती ने गुरुवार सुबह करीब 8 बजे दम तोड़ दिया है। उसकी मौत की पुष्टि सत्यम अस्पताल के डॉक्टरों ने की है। बता दें कि युवती का ब्रेन डेड हो चुका था और वह तब से कोमा में थी। लवली ऑटो की दूसरी मंजिल की कैंटीन में दोपहर करीब 2.30 बजे गलत शब्द कहने से नाराज सिरफिरे आशिक ने प्रेमिका के दफ्तर में घुसकर गोली मार दी और बाद में खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली। प्रेमिका को सिविल अस्पताल दाखिल करवाया गया जहां से उसे प्राइवेट अस्पताल रैफर कर दिया गया था। जानकारी के अनुसार सीमा तिवारी उर्फ सिम्मी (27) पुत्री राम वचित्र निवासी कमल विहार बशीरपुरा जो लवली ऑटो में काम कर रही थी, का मनप्रीत उर्फ विक्की (28) पुत्र संतोख सिंह निवासी मुस्तफापुर, करतारपुर के साथ प्रेम प्रसंग था। मनप्रीत भी करतारपुर में लवली ऑटो में काम करता था लेकिन कुछ समय पहले उसने वहां से काम छोड़ कर किसी और जगह पर काम करना शुरू कर दिया था।
मनप्रीत सिम्मी से शादी करना चाहता था लेकिन सिम्मी के परिजन इस बात के लिए राजी नहीं थे। सिम्मी के भाई व स्टाफ ने बताया कि मनप्रीत 2-3 बार उनके घर पर रिश्ता लेकर आया था लेकिन दूसरी जाति का होने के कारण परिवार वालों ने रिश्ते से इंकार कर दिया था।सिम्मी शादीशुदा थी और उसका तलाक का केस चल रहा है। बीते दिनों सिम्मी व मनप्रीत की आपस में फोन पर कुछ बात हुई थी जिससे गुस्से में आकर मनप्रीत दोपहर सिम्मी के नकोदर चौक जालंधर स्थित दफ्तर में चला गया जहां वह दूसरी मंजिल स्थित कैंटीन में अपने दोस्तों के साथ खाना खा रही थी। इस दौरान दोनों में कहासुनी हो गई और मनप्रीत ने 32 बोर के रिवॉल्वर से 4 फायर किए। जैसे ही वह भागने लगी तो एक गोली उसके सिर के पीछे लगी और वह नीचे गिर गई। सिम्मी को 2 गोलियां लगीं। इसके बाद मनप्रीत ने खुद को गोली मार कर अपनी जान दे दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *