विपक्षी दलों के पार्षदों का हाईईवोल्टेज ड्रामा..|

विपक्षी दलों के पार्षदों का हाईईवोल्टेज ड्रामा..|

कानपुर। नगर निगम में कोरोना काल के बाद पहली सदन बैठक मेें बुधवार को विपक्षी पार्टी के पार्षदों का श्हाईवोल्टेज ड्रामा्य चला। सपा व कांग्रेस के पार्षदों ने बिना चर्चा बजट पास करने पर नगम निगम परिसर में जमकर हंगामा किया।
शहर में विद्युत शवगृहए मोतीझील पॉर्किंग के शुल्क समेत अन्य मुद्दों पर बैठक में बिना प्रस्ताव पास होने से नाराज सपा व कांग्रेस के पार्षदो ने जमकर हंगामा किया। कांग्रेस के कमल शुक्ल श्बेबी्यए सोहेल अंसारी समेत आधा दर्जन पार्षद मेयर के समझाने के बावजूद बवाल करते रहे। बैठक मेें पहुंचेे वार्ड.89 के पार्षद ने क्षेत्र में गंदे पानी के मुद्दे को उठाया। पार्षद का कहना था कि वार्ड में दूषित पानी से लोगों का जीना दुश्वार है। इसे लेकर उन्होंने संबंधित अधिकारी को कई बार लिखित में शिकायत दी लेकिन कोई अधिकारी नहीं आया। पार्षद कमल शुक्ल श्बेबी्य नेे कोरोना काल में हुई बेरोजगारी और महंगाई बढ़ाने को लेकर बैठक में चर्चा की। इस दौरान बिना प्रस्ताव के बजट पास किए जाने का आरोप लगाते हुए पार्षद आक्रोशित हो गए और जमकर नारेबाजी करने लगे।
बैैठक में पहुंचे एमएलसी अरुण पाठक ने शहर में अवैध चट््टा हटाए जाने के अभियान की तारीफ की और मेयर प्रमिला पांडेय को धन्यवाद दिया। पाठक ने महापौर से शहर के प्रमुख बाजारो में फीडिंग सेंटर व नौजवानों के लिए श्युग हब्य बनाने मांग की। कल्याणपुर के पार्षद ने इलाके की गंदी नालियों का मुद्दा उठाया। खबर लिखे जाने तक सदन की कार्रवाई जारी थी।

हंगामे के बीच रोकी गई बैठक
मेयर के समझाने के बावजूद बैठक में पार्षदों का श्हाई वोल्टेज्य ड्रामा चलता रहा। इस वजह से कुछ देर चली बैठक को हंगामेे के बीच रोकना पड़ा। मेयर प्रमिला पांडेय ने बताया कि बिना चर्चा के कोई बजट पास नहीं हुआ है। विपक्षी दल के पार्षद हंगामा कर रहे थे जिन्हें समझाने के बाद मामला शांत कराया गया।
निरस्त किया गया विद्युत शव गृह शुल्क
कोरोना महामारी में बजट में पास पास किए गए विद्युत शव गृह में 500 रुपए शुल्क पर विपक्षी दलों के पार्षदों ने हंगामा किया तो मेयर प्रमिला पांडेय ने फिलहाल इस शुल्क को निरस्त करने का आश्वासन दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *