वुहान जाने वाली उड़ान के पायलट का सवाल- हमारे संक्रमित होने की कितनी संभावना है

वुहान जाने वाली उड़ान के पायलट का सवाल- हमारे संक्रमित होने की कितनी संभावना है

नई दिल्ली : चीन के कोरोनावायरस से प्रभावित वुहान से भारतीयों को चालक दल के 19 सदस्यों के साथ वापस लाने वाले एअर इंडिया के कप्तान अमिताभ सिंह ने जाने से पहले पूछा था कि हमारे संक्रमित होने की कितनी संभावना है? हमारे परिवारों का क्या होगा? राष्ट्रीय वाहक में परिचालन के निदेशक सिंह ने डबल-डेकर बोइंग 747 विमान को कार्यकारी कमांडर के तौर पर उड़ाया था। यह विमान 31 जनवरी और एक फरवरी को दो बार में वुहान में फंसे भारतीयों को लेकर आया था। इसमें 647 भारतीय और मालदीव के सात नागरिक थे।
जब पहली उड़ान उतर रही थी तो उन्हें ‘भयानक अहसास’ हो रहा था। सिंह ने कहा कि सड़कें और इमारतें अच्छी तरह से जगमगा रही थीं लेकिन शहर में सन्नाटा पसरा हुआ था, क्योंकि आसपास कोई इंसान नहीं था। एअर इंडिया ने भले ही पहले भी फंसे हुए लोगों के बाहर निकाला हो लेकिन वुहान से लोगों को लाना अपनी तरह का पहला अभियान था।
उड़ानों में सवार एअर इंडिया के एक कर्मी ने कहा कि हमने अपने डर पर विजय प्राप्त की क्योंकि हमें नहीं पता था कि क्या अपेक्षित है। उन्होंने वुहान से निकाले गए लोगों की भी प्रशंसा की और कहा कि एक भी शख्स ने दुर्व्यवहार नहीं किया। सात दिन तक अलग रहने के बाद इस हफ्ते काम पर लौटे सिंह ने कहा कि इन उड़ानों में सबसे अच्छी बात यह थी कि चालक दल के किसी भी सदस्य ने जाने से इनकार नहीं किया बल्कि वे इसे करने के लिए अधिक तैयार थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *