शर्मनाक: बिधनू में लोडर चालक ने हादसे के बाद युवक का शव झाड़ियों में फेंका …

शर्मनाक:  बिधनू में लोडर चालक ने हादसे के बाद युवक का शव झाड़ियों में फेंका …

:-लोडर चालक ने बाइक सवार दो मित्रों को कुचला, शव 10 किलोमीटर दूर फेंका

वर्ल्ड खबर एक्सप्रेस न्यूज

कानपुर : बिधनू थानाक्षेत्र के कठेरुआ गांव निवासी होटल संचालक राकेश कुशवाह का 18 वर्षीय बेटा शुभम शुक्रवार सुबह पड़ोसी मित्र अखिलेश पाल संग बाइक से कठारा गांव गया हुआ था। घर लौटते वक्त कठेरुआ- कठारा मार्ग पर बंबा पुलिया के पास सामने से आ रही तेज रफ्तार लोडर ने टक्कर मार दी। जिससे दोनों लोडर के पहिये की चपेट में आ गए।जिसमे शुभम की मौके पर ही मौत हो गई और अखिलेश गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना के बाद सूनसान क्षेत्र देख अस्पताल ले जाने के बहाने चालक शव के साथ घायल साथी को लोडर में डालकर भाग निकला।

बताते चले कि लोडर चालक अस्पताल ले जाने के बजाए अंदर के रास्तों से होते हुए सेन और फत्तेपुर गांव के बीच सूनसान क्षेत्र में अखिलेश को फेंक दिया। वहीं ओरछी गांव के पास सड़क किनारे झाड़ियों में शुभम का शव फेंककर भाग गए। अखिलेश के मुताबिक उसे जब होश आया तो वह कुछ देर बाद आये एक बाइक सवार से मदद मांगी।

जिसपर बाइक सवार ने उसे नौबस्ता गल्ला मंडी में छोड़ दिया। जिसके बाद अखिलेश टेंपो में बैठकर गांव पहुंचकर घटना की जानकारी दी। घटना की जानकारी पर शुभम के परिजन पुलिस को सूचना कर ग्रामीणों संग शुभम की तलाश शुरू कर दी। करीब चार घंटे बाद परिजनों को ओरछी गांव के पास सड़क किनारे झाड़ियों में शुभम का शव पड़ा मिला। लोडर चालक ने चेहरे पर चोंट होने पर चेहरे में एक अंगौछा बांधने के साथ दूसरे अंगौछा से शव के दोनों हाथ बांध दिए थे। बेटे का शव देख मां शिवकांती गश खाकर गिर पड़ी।

पिता ने बताया शुभम तीन भाई बहनों में बीच का था। थाना प्रभारी सुखराम सिंह रावत ने बताया कि घटना की छानबीन कर चालक समेत लोडर की तलाश की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *