सउदी अरब की जेल में बंद है पंजाबी युवक, 90 लाख नहीं दिए तो कर दिया जाएगा सिर कलम..

सउदी अरब की जेल में बंद है पंजाबी युवक, 90 लाख नहीं दिए तो कर दिया जाएगा सिर कलम..

श्री मुक्तसर साहिब|गांव मल्लहण का नौजवान बलविन्दर सिंह सउदी अरब के अलहेर की जेल में जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रहा है। यदि 90 लाख की ब्लड मनी न भरी गई तो उसका सिर कलम कर दिया जाएगा। दरअसल बलविन्दर सिंह 11 साल पहले काम की तलाश में सउदी अरब गया था, परन्तु उसने शायद कभी सोचा नहीं होगा कि अच्छे भविष्य का सपना उसे इस कदर महंगा पड़ेगा। एक कत्ल केस में करीब 7 सालों से जेल में बंद बलविन्दर को या तो सजा-ए मौत मिलेगी या फिर ब्लड मनी देनी पड़ेगी। दूसरे तरफ बलविन्दर की विधवा मां के लिए इतनी बड़ी रकम एकत्रित कर सकना संभव नहीं है। बलविन्दर सिंह का परिवार गरीबी में डूबा पड़ा है। पुत्र को फिर मिलने के लिए तरस रही बीमार और अकेली मां के आंचल में लाचारी के सिवाय कुछ नहीं है। बलविन्दर के गम में उसके पिता का भी देहांत हो गया। एक बड़ा भाई ड्राईवरी करता है, जिससे घर चलता है। उसकी मां और रिश्तेदारों ने सरकार और समाजसेवी संस्थाओं से मदद की गुहार लगाई है। वहीं बलविन्दर सिंह ने फोन पर बात करते बताया कि वह जिस वर्कशाप में काम करता था, वहां मिस्र का एक व्यक्ति उसको तंग परेशान करता था। एक दिन उसके साथ पंजाबी लड़कों की लड़ाई हो गई तो उसने बलविन्दर पर चाकू के साथ हमला कर दिया। बलविन्दर सिंह और उसके साथी ने बचाव करते हुए उस पर लाठी से वार कर दिया, जिससे वह जख्मी हो गया। उसे और उसके साथी जालंधर निवासी जतिन्दर को पुलिस मारपीट के आरोप में जेल में ले गई और मारपीट के आरोप में दोनों को 5 साल जेल में रखा गया। इसके बाद बलविन्दर को बताया गया कि मिस्र के उक्त व्यक्ति की मौत हो गई है। उसके परिवार के साथ समझौता किया जाए नहीं तो उस का सिर कलम कर दिया जाएगा। यदि वह उच्च अदालत में भी अपील करता है तो भी अधिक से अधिक 2 माह का समय मिलेगा। बलविन्दर का आरोप है कि भारतीय अम्बैसी में भी उसकी कोई सुनवाई नहीं हो रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *