सुप्रीम कोर्ट का फैसला संविधान और जनतंत्र के खिलाफ है: सीएम केजरीवाल

नई दिल्ली|फैसले की एक ही चाभी है कि आप आगामी लोकसभा चुनाव में आप को वोट दें-CM
– कोर्ट के इस फैसले पर केजरीवाल ने कहा कि यह दिल्ली की जनता के खिलाफ है 
उपराज्यपाल vs सीएम केजरीवाल मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने आज अहम् फैसला सुनाया है। लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले से कही न कही दिल्ली की सत्ताधीश आम आदमी पार्टी को ये फैसला रास नहीं आ रहा है। और आप पार्टी ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सवाल उठाते उठाते अपने लिए वोट भी मांगे है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शक्तियों के बंटवारे पर गुरुवार को आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सीधे-सीधे सवाल उठाए। बीजेपी नेता संबित पात्रा ने कहा कि उनकी पार्टी केजरीवाल के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट की अवमानना का केस दायर करेगी। उन्होंने दिल्ली की जनता से अपील करते हुए कहा कि इस फैसले की एक ही चाभी है कि आप आगामी लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (AAP) को वोट दें। देश के सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में ऐंटि करप्शन ब्यूरो (ACB) को केंद्र के अधीन ही रखा, जबकि अफसरों की ट्रांसफर-पोस्टिंग का मुद्दा बड़ी बेंच को भेजा है। कोर्ट के इस फैसले पर केजरीवाल ने कहा कि यह दिल्ली की जनता के खिलाफ है। इसका एक ही इलाज है कि आप लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री के लिए वोट न करके, सातों सीटें AAP को दे दें। इस बीच बीजेपी ने केजरीवाल के इस बयान पर आपत्ति जताते हुए इसे सुप्रीम कोर्ट की अवमानना करार दिया।

शीला दीक्षित के बयान पर निशाना
केजरीवाल ने केंद्र सरकार के साथ दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, जो शक्तियां शीला दीक्षित के पास थीं, उसकी 10 फीसदी भी हमारे पास नहीं हैं। जितना उन्होंने 15 साल में काम किया, उससे 10 गुना हमने चार साल में काम किया था। इस तरह के बयान ठीक नहीं हैं। कल इन शक्तियों की जरूरत आपको भी पड़ेगी। शीला ने केजरीवाल सरकार के 4 साल के कार्यकाल की आलोचना की थी और कहा था कि इन चार सालों के दौरान दिल्ली बर्बाद की राह पर फिसली है।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि सर्वोच्च न्यायालय का फैसला संविधान और जनतंत्र के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि हम इसको लेकर अपने वकीलों से बात करेंगे। दिल्ली की जनता से मुखातिब होते हुए केजरीवाल ने कहा, इसकी चाभी एक ही है, वह दिल्ली की जनता के पास है। केजरीवाल बहुत छोटा आदमी है। हमारी सरकार ने लड़-झगड़कर आपके लिए काम करवाया है। मेरी दिल्ली की जनता से अपील है कि लोकसभा चुनाव में पीएम बनाने के लिए वोट मत देना। लोकसभा चुनाव के अंदर सातों सीटें हमें देना। हम संसद के अंदर बाध्य करेंगे कि दिल्ली का पूर्ण राज्य का दर्जा मिल जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *