हैवानियत: पहले टक्कर मार कर ली जान और अगले दिन सडक़ पर फेंका शव

जम्मू|जिले के विजयपुर क्षेत्र में राजमार्ग के किनारे एक वृद्घ का लहुलुहान शव पाया गया। विजयपुर पुलिस थाने के अधिकार क्षेत्र के अधीन आते डेरा गंडोत्राँ (जक्ख) इलाके में मिले इस शव की पहले तो पहचान नहीं हुई और माना गया कि संभवत: यह कोई राहगीर था जिसे किसी अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी थी लेकिन बाद में पुलिस ने पुलिस कंट्रोल रूम से जारी संदेश के आधार पर जब जम्मू पुलिस से संपर्क किया तो पता चला कि यह शव एक रिटायर्ड बी.डी.ओ. का है जो मंगलवार सुबह से ही घर से लापता है।
मृतक की पहचान 65 वर्षीय गुलाम अली बट पुत्र मौहम्मद शरीफ बट के रूप की गई जो कि मूलत: भद्रवाह के मौहल्ला किला का रहने वाला था और वर्तमान में जम्मू के भठिन्डी इलाके की सेटलाईट कॉलोनी की लेन-1 में रहता था। बताया गया है कि यह व्यक्ति गत दिवस सुबह घर से सैर के लिए रोजाना की तरह वेव मॉल की ओर आया लेकिन वापस नहीं पहुंचा। आमूनन 8 बजे तक घर पहुंचने वाला यह व्यक्ति जब दोपहर तक घर नहीं पहुंचा तो परिजन पहले भटिंडीभ्पुलिस चौकी पहुंचे व बाद में इन्होंने त्रिकुटा नगर थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई।
इसी दौरान परिजनों को अपने स्तर पर पड़ताल करने पर पता चला कि मलिक माॢकट इलाके में एक वृद्ध सडक़ दुर्घटना का शिकार हुआ है जिसे टक्कर मारने वाला अपनी पंजाब नंबर की कार में डाल कर अपने ही साथ ही ले गया है। सूचना के बाद पुलिस ने तलाश तेज की और पी.सी.आर. के जरिए सभी थानों को सूचित किया। इसके अलावा अस्पतालों से भी पता लगाने की कोशिश की गई लेकिन मंगलवार देर रात तक वृद्ध का कोई सुराग नहीं लगा। बुधवार सुबह तडक़े लोगों ने विजयपुर के डेरा गंडोत्राँ में शव को देखा तो पुलिस को सूचित किया। विजयपुर पुलिस ने त्रिकुटानगर पुलिस को सूचित किया व शव सौंप दिया जिसका बाद में पोस्टमार्टम भी करवाया गया।
माना जा रहा है कि आरोपी चालक ने हादसे के बाद घायल को कार में डाला लेकिन गंभीर चोटों के चलते उसकी मौत के बाद वह दिन भर शव को गाड़ी में ही छिपाए रखा व बाद में उसे अंधेरे का लाभ उठा कर राजमार्ग के किनारे फेंक गया। फिलहाल त्रिकुटानगर पुलिस ने आरोपी चालक के खिलाफ लापरवाही से गाड़ी चलाने, गैर इरादत हत्या और सबूतों को मिटाने के आरोप में आरपीसी की धारा 279, 304 व 201 के तहत मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस द्वारा सीसीटीवी कैमरों की मदद से गाड़ी की तलाश भी की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *