25 साल से बेकार पड़े ट्रेन के डब्बे को बनाया अनोखा Cafeteria..

25 साल से बेकार पड़े ट्रेन के डब्बे को बनाया अनोखा Cafeteria..

पटना|बिहार में रेलवे विभाग के द्वारा एक सराहनीय कदम उठाते हुए 25 साल पुराने बेकार पड़े ट्रेन के डिब्बे को उपयोग में लाया गया। उन्होंने बेकार पड़े ट्रेन के डिब्बे को कैफेटेरिया में बदल दिया, जिससे स्टाफ को खल रही कैंटीन की कमी भी पूरी हो गई। मामला पटना के दानापुर कोचिंग डिपो की है, जहां पर एक अप्रयुक्त रेलवे कोच को कैफेटेरिया में बदल दिया गया है। पूर्व मध्य रेल महिला कल्याण संगठन की अध्यक्षा कौमुदी त्रिवेदी ने रेलकर्मियों के लिए अनुपयोगी कोच को विकसित कर इसे स्टाफ कैंटीन का रूप दिया। इस अनोखे कैफिटेरिया का उद्घाटन किया। वहीं कोचिंग डिपो के अधिकारी अनिल कुमार ने बताया कि स्टाफ को कैंटीन की अनुपस्थिति के बारे में पिछले 2 साल से शिकायत की हुई थी। इस क्षेत्र में कोई होटल नहीं हैं। इसलिए हमने इस बारे में सोचा। उन्होंने कहा कि इस कैंटीन के बनने ना केवल दानापुर कोचिंग डिपो के सौंदर्यीकरण में वृद्धि हुई है बल्कि यहां काम करने वाले 500 से अधिक रेलवे के कर्मचारियों को अब पौष्टिक भोजन के लिए कहीं और नहीं जाना पड़ेगा। बता दें कि साल 2019 के बाद रेलवे द्वारा इस डब्बे को बेकार घोषित कर दिया गया था। इस कैंटीन को दानापुर कोचिंग डिपो के अंदर वाटर रिसाइक्लिंग प्लांट के पास स्थापित किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *