FPI ने वित्तमंत्री से सरचार्ज वापस लेने की मांग करते हुए निवेश को लेकर कही बड़ी बात…|

FPI ने वित्तमंत्री से सरचार्ज वापस लेने की मांग करते हुए निवेश को लेकर कही बड़ी बात…|

नई दिल्ली|विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने वित्तमंत्री से उन पर लगने वाले सरचार्ज वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि भारत में निवेश करने में वे तभी सक्षम हो पाएंगे जब टैक्स स्थिरता होगी। वित्त मंत्रालय ने टैक्सेसन में किए गए बदलाव को लेकर निवेशकों की चिंता जानने के लिए शुक्रवार को एफपीआई और घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) की एक बैठक बुलाई थी जिसमें एफपीआई के प्रतिनिधियों ने नार्थ ब्लॉक में वित्तमंत्री और सचिवों से मुलाकात की। पिछले महीने 5 जुलाई को संसद में पेश आम बजट 2019-20 में सरकार ने दौलतमंद इनकम टैक्सपेयर्स पर सरचार्ज बढ़ाने की घोषणा की थी, जिसके बाद विदेशी निवेशकों ने भारतीय बाजार से 22,000 करोड़ रुपये से ज्यादा की निकासी की।
बैठक में सभी प्रमुख विदेशी संस्थागत निवेशकों ने हिस्सा लिया। बैठक में वित्त मंत्रालय के अधिकारियों ने उनके द्वारा दिए गए सुझावों पर कोई बयान नहीं दिया, लेकिन उनके द्वारा उठाए गए मसलों को सुना। बैठक में एफपीआई ने वित्त मंत्री से टैक्स स्थिरता की मांग करते हुए कहा कि वे भारत में तभी निवेश करने में सक्षम होंगे जब उन पर लगने वाला सरचार्ज वापस लिया जाएगा। एएमआरआई (एसोसिएशन ऑफ एसेंट मैनेजमेंट राउंडटेबल ऑफ इंडिया) की प्रेसिडेंट नंदिता पारकर ने कहा, हमने टैक्सेसन और ईज ऑफ डूइंग बिजनस पर बातचीत की। हमने उनको बताया कि भारत सिर्फ इक्विटी एफपीआई प्रवाह में 25-35 अरब डॉलर निवेश को आकर्षित कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *