MP में कमलनाथ की जगह खिलेगा कमल : डिप्टी सीएम

MP में कमलनाथ की जगह खिलेगा कमल : डिप्टी सीएम


– जनता के हितों को देखते हुए कांग्रेस से अलग हुए विधायक

कानपुर, 19 मार्च । मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार जनता की उम्मीदों पर खरा नहीं उतर रही है और इसी के चलते कांग्रेस के करीब डेढ़ दर्जन विधायक अलग हुए हैं। विधायकों के अलग होने से अब कमलनाथ की सरकार अल्पमत में  है और जल्द ही कमलनाथ की जगह कमल खिलने जा रहा है। भाजपा की सरकार आते ही एक बार फिर मध्य प्रदेश में विकास कार्य तेजी से होंगे। यह बातें कानपुर पहुंचे उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने मीडिया से बातचीत करते हुए कही।


उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने आज अपनी सरकार के तीन साल पूरे होने पर उपलब्धियां गिनाई। इस मौके पर मीडिया से मुखातिब होते हुए उपमुख्यमंत्री ने अपनी सरकार के काम काज को सराहा और ’साल तीन, काम बेहतरीन’ का नारा दिया। मौर्या ने कहा कि सड़क, पानी बिजली को लेकर उनकी सरकार ने अभूतपूर्व कार्य किये। उन्होंने दावा किया कि गरीब, किसान, महिला सभी वर्गों के हित में काम किया है।

वहीं किसानों की ओलावृष्टि से हुए नुकसान को लेकर उपमुख्यमंत्री ने कहा की उनकी सरकार ने बेहतर मदद की और राहत सामग्री वितरत की। पीएम आवास योजना, कानपुर मेट्रो समेत कई योजनाओं में प्रदेश सरकार ने कानपुर की जनता का ध्यान रखा है।
मध्य प्रदेश में चल रहे सियासी भूचाल को लेकर जब उनसे सवाल किया गया कि अगली सरकार किसकी होगी, तो कहा कि जब वहां की सरकार के विधायक ही सरकार के कामकाज से खुश नहीं है तो सरकार का गिरना तय है। कमलनाथ की सरकार अल्पमत में चल रही है और कोरोना वायरस का बहाना बनाकर कुछ दिन और रहना चाहती है।

जब सवाल किया गया कि भाजपा पर विधायकों को तोड़ने का आरोप लग रहा है तो कहा कि भाजपा राष्ट्रवादी पार्टी है और किसी की सरकार नहीं गिराती। कांग्रेस से असंतुष्ट होकर विधायकों ने जनता के हितों को देखते हुए निर्णय लिया है। वहां पर जल्द ही कमलनाथ की जगह कमल खिलने जा रहा है। कोरोना के मसले पर मौर्या ने कहा कि इस आपदा के लिए हम तैयार हैं और इससे डरना नहीं है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *